Systematic investment plan In Hindi आज हम आपको What is SIP and How It Works एसआईपी क्या और कैसे काम करता हैं? इसके बारे में पूरी जानकारी देंगे Hindi में, दोस्तों यह तो आपको पता ही है की भारतीय समाज का एक बड़ा हिस्सा मध्यम वर्गीय लोगों से मिलकर बना है, हमारे देश के लोग अपने कमीइ का एक बड़ा भाग Saving के रूप में पैसे बचत करके रखते है ताकि वो पैसे बुरे Time में उनका काम आये कह के.

जहा तक हमने देखा है की लोग अपने जरुरत के हिसाब से अपना Saving करते है कुछ लोग Short Term के लिए करते है तो कुछ लोग Long Term के लिए बचत करते है अपने पैसे की, बहोत से लोग एसे होते है जो बैंक में अपनी Saving करते हैं लेकिन जो log जोखीम उठा सकते हैं वो शेयर मार्केट में भी Investment करने से पीछे नहीं हटते हैं।

SIP Guide in Hindi Systematic Investment Plan क्या है और कैसे काम करता हैं?

अपने Saving को हमेसा सही जगह पर निवेश ना कर दिया जाए तब तक अधुरा है आपका Saving करना सही जगह Invest किया गया पैसा समय के साथ बढ़ता जाता हैं और आपके भविष्य को सुरक्षित रखता हैं, बहोत से लोग इस बात से अंजन होते है की आखिर उन्हें अपनी मेहनत की कमाई को सुरक्षित रूप से Invest कोन सी जगह कोन से मार्किट में करना चाहिए.

अभी के Time में SIP (Systematic investment plan) एक बहोत ही तरीका है जो आपके Invest की हुई राशि पर बेहतर Return दे सकता हैं आइये इस स्कीम के बारे में थोड़ा और जानते हैं.

What is SIP क्या है एसआईपी कैसे Work करता है

SIP का मतलब होता है Systematic Investment Plan इसे आप चाहे तो व्यवस्थित निवेश योजना भी कह सकते है यह Mutual Funds में Systematic के रूप में Invest कर सकते है, सिस्टमैटिक निवेश योजना SIP मे आप Daily, Weekly, Monthly, and Quarterly Basis पर पैसा निवेश या Invest कर सकते है.

अगर हम असं भासा में कहे तो यह बैंक में जमा होने वाली Recurring Deposit Scheme की तरह ही होता है इसके तहत आप सभी अपने पसंदीदा Company के Mutual Fund में एक निश्चित राशि पैसो को रेगुलर Interval पर जमा कर सकते हैं.

Mutual Fund की SIP Scheme से आपके Bank Account को लिंक कर दिया जाता हैं मतलब की अकाउंट से जोड़ दिया जाता है, जिसके जरिये महीने की निश्चित तारीख को वह पैसा आपके Bank Account से SIP Investment के तौर पर SIP Scheme में Transfer हो जाता हैं.

देखा जाये तो यह सुविधा बहोत ही अच्छा दिया गया है जैसे की मन लीजिये आपने HDFC का SIP Scheme में Rs.500 इंडियन रूपये से निवेश करते हैं तो आपके बैंक account से 500 रूपये Automatic कट जायेंगे और वो पैसे HDFC Mutual Fund में Invest हो जायेंगे, यह सुविधा invest करने वालो के लिए अच्छा है क्योकि इससे आपकी आदत भी बन जायेगा और  इसके बारे में आपको बार बार सोचना भी नही पड़ेगा.

SIP या Systematic Investment Plan के सलीकेदार Investment की वजह सै Mutual Funds मे निवेश या Investment करना बहुत ही आसान होगया है केवल एक बार Investment या निवेश सै आप बार बार Mutual Funds मे Invest या निवेश कर सकते है.

SIP या Systematic Investment Plan केसे काम करते है:

1.सही Mutual Funds और उसकी SIP को चुनना:

Market मे काफी Mutual Funds और भहुत सी SIP scheme मोजूद है, आप जानते ही है की किसी भी निवेश मै Risk and Return दोनो ही ज़रूरी बाते है और सबसे उछ्त्म निवेश वही है जिसमे कम Risk पर Return ज़्याद हो

पहली चीज़ तो ये की पहले निवेशक को यह निशचित करना होगा कि उसे किस उप्देश्य से निवेश करना है और कितने समय के लिये निवेश करना है उसके बाद उसे Market उपल्ब्ध बहुत सारे Mutual Funds schemes मे से सही scheme को चुनना होगा

2.KYC And SIP Account:

अगर कोई निवेशक इसमे निवेश चाहता हो तो पहले तो उसका SIP Account होना बहुत अनिवार्य है इसके पहले आपको Basic KYC Documents जमा करवाना ज़रूरी है

3.Planning:

निवेश्क का SIP Account खुलने के बाद निवेशक को ये निश्चित करना होता है की उसे कितना निवेश करना है और साथ ही साथ निवेश्क को कितने समय के लिये निवेश करना है ये उसे पहले ही निश्चित कर लेना होता है.

निवेश के लिये आपको महज़ एक Form भरना होगा जिसमे आपको ज़रुरी Details दरशानी होगी और उसके आपको अपना DYC Account जमा करवाना होगा साथ ही साथ आपको Market के up’s and down’s पर नज़र रखते हुए सही scheme का चुनाव करना होगा ताकि आप कम से कम जोखिम लेकर ज़्याद सै ज़्याद और सही return पा सके या सही profit कमा सके.

SIP Systematic Investment Plan मे Invest या निवेश करने के लिये Investors को किन किन चीजो की जरुरत पड़ता है

  • सबसे पहले तो SIP से Mutual Funds मे निवेश करने के लिये एक Form भरना होगा जिसमे आपकी ज़रुरी जानकारियो  को भी भरना अनिवार्य है
  • उस Form मे आपके निवेश के method को पूछा जायेगा उसमे आप निवेश के method के तोर पर SIP या Systematic Investment Plan को दरशाए
  • उसी Form मे आपको auto debt की mandate देनी अनिवार्य है जिससे हर महीने तय रकम आपके Account से निकलती रहेगी या less होती रहेगी
  • सारी ज़रूरी Details form मे भरने के बाद आप जमा कर दे, Mutual funds की Fund Company तय तारीख को आपके Account सए तय रकम निकाल लेगी
  • जो पैसा Mutual Fund Company Form भरने के बाद आपके Account से निकालेगी Company वही पैसा Mutual Funds Units खरीदने के लिये निवेश या Invest कर देगी.
  • जेसा की आप भी पहले से जानते ही होगे की Mutual Funds भी बज़ार के जोखिमो के अधीन है mutual Funds मे बार बार up’s and down’s आते है जिसकी वजह से Units की quantity मे भी बदलाव आता है आसान तरीके se समझे तो जब Units स्सते मे मिलेंगी तो Units की quantity ज़्यादा होगी, और जब Units महेंगी होगी तो Units की quantity ज़्यादा होगी.

SIP Investments फायदो क्या-क्या है समझने की कोशिश करते है:

1.Small or Less amount investment:

किसी Middle Class परिवार के पास ज़्यादा निवेश के लिये पैसा नही होता तो वो सिर्फ 500 रु की छोती सी रकम से निवेश शुरु कर सकते है नियमित अनतराल पर निकाली जाने वाली रकम से ल्म्बे समय तक सही Return पाया जा सकता है.

2.Simple Savings:

SIP योजना कि मदद सै आप आसानी से बचत कर सकते है इसमे निवेश करने के बाद हर माह एक निशचित तारीख को mutual Fund आपके Bank Account से निरधारित राशि निकालकर Systematic Investment Fund मे Invest कर देता है  इसकी मदद से आप आसानी, सरलता और बिना किसी परेशानी के निवेश और बचत कर सकते है.

3.Money Withdrawal From SIP:

वेसे तो ज़्यादातर SIP investment मे कोई Lock period नही होता है, निवेशक अपने अनुसार जब तक चाहे तब तक निवेश कर सकता है, और वो जब चाहे तब निवेश बन्द भी कर सकता है,  SIP मे निवेशक को सही Return के साथ साथ Advanced Liquidity का लाभ भी पाता है, जिससे निवेशक कभी भी अपना पैसा Cash मे Convert करा सकता है.

4.Compounding Power:

Investment की भाशा मे Compounding का सीधा सीधा मतलब होता है Interest पर Interest मिलना, जब निवेश्क को SIP मे निवेश से सही Return मिलता है तो उस पैसे को वापस निवेश कर दिया जाता है जिसकी मदद से निवेशक को और सही Returns मिलते है.

5.Invests Systematically:

SIP या Systematic Investment Plan मे निवेशक के Bank Account से एक निशचित राशि नियमित रुर से और नियमित समय पर निकालकर Mutual Funds मे निवेश कर दी जाती है इसकी मदद से आपकी Investment Process मे अनुशाशनशीलता बनी रहती है और आपका निवेश सही से चलता रहता है.

6.Averaging Rupee-Cost:

निवेशक SIP मे निवेश करने बाद बाज़ार के जोखिमो से, या उसके up’s and down’s से लगभग आज़ाद हो जाता है, SIP मे हर माह या निशचित अंतराल मे निवेश होता रहता है, जब Market मे Units कि कीमत सस्ती होती है, तब ज़्यादा Units खरीदे जाते है और जब Units कि कीमत ज़्यादा होती है तो कम Units जाती है.

इसकी मदद से Long term Investment से निवेश्क Mutual funds पर Market up’s and down’s का असर नही होता, इस निवेश से निवेश्क Long term Investments मे जोखिम या Risk कम हो जाता है और निवेश्क को सही returns मिलते है.

7.Less Risk:

SIP मे Investment कम होता है, वजह है कि SIP मे निवेश्क ज़्यादा निवेश न करके कम कम राशि मे निवेश करके लम्बि अवधी मे Risk की दर कम हो जाती है.

8.Discount In Tax:

जब निवेशक SIP मे निवेश करता है या निवेशित राशि को निकालता है तो किसी तरह का Tax नही लगता, लेकिन इस निवेश पर भी Capital Gian होता है वो निवेश के शुरवाति समय के अधार पर निकाला जाता है.

systematic Investment Plan SIP Investment के नुकसानो को समझने की कोशिश करते है:

1.अगर आप केवल 1 या 2 सालो के लिये निवेश कर रहे है तो शायद एसा हो सकता है की आपको सही Return ना मिले

2.अगर आपने High NSE Market के समय पर निवेश किया है साथ ही आपने अगर 1 या 2 साल के लिये का SIP Investment Plan लिया है और अगर उसी समय के दोरान अगर NSE Market(Share Market) मे Downfall आ जाता है तो शायद आपको बहुत ज़्याद नुकसान bear करना पद सकता है एसा भी हो सकता है की आप अपनी निवेश वाली रकम भी Cover ना कर पाए.

3.अगर 1 2 या 3 तीन साल मे आपको अगर सही Returns नही मिल रहे है तो आपको 5 6 या 7 साल तक सही Return आने का इनत्ज़ार करना होगा लेकिन उसमे भी सिर्फ 7 सै 8 percent ही Chances है की आपको सही Return ही मिलेगा

4.इसमे भी main नुकसान यही है की अपको सही Returns की कोई गेरेन्टी नही मिलती.

SIP या Systematic Investment Plan मे निवेश करे या नही?

अभी अभी हमने ये जाना की SIP kya hai और ये केसे काम करता है, हमने ये भी जाना की Systematic Investment Plan निवेश करके आप सीधे Mutual Funds मे पैसा लगाकर सही Return या Profit कमा सकते है.

इतना सब कुछ जानने के बाद शायद आपके मन ये सवाल आरहा होगा की हमे अखिर SIP (Sytematic Investment Plan) मे निवेश करना चाहिये या नही?

इसका जवाब है हा आप SIP या Systematic Investment Plan मे निवेश या Invest कर सकते है

अगर आप कम पैसो मै कही निवेश करना चाहते है तो महज़ 500 रु की शुरवाती रकम के निवेश से आप SIP से सीधे Mutual Funds मे निवेश कर सकते है, और Market के up’s and down’s को समझते हुए कम Risk लेते हुए सही Return और Profit कमा सकते है, आसान भाशा मे समझे तो SIP {Systematic Investment Plan} मे निवेश करने के लिहाज़ से एक सही विक्ल्प है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here